हरियाणा सरकार और पतंजलि के सहयोग से मोरनी हिल्स में विश्व औषधीय वन (हर्बल फॉरेस्ट) प्रोजेक्ट का शुभारंभ।


एक अनूठे प्रयोग में हरियाणा सरकार तथा पतंजलि के सहयोग से मोरनी हिल्स में विश्व औषधीय जड़ी बूटी वन के प्रोजेक्ट का शुभारंभ हुआ, जिसका उद्घाटन हरियाणा के मुख्यमंत्री एम.एल.खट्टर द्वारा किया गया। इस औषधीय वन को बनाने का उद्देश्य जड़ी बूटीयों तथा आयुर्वेदिक उत्पादों का विकास करना है।

मीडिया को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि “मै प्रसन्न हूँ कि मेरे प्रदेश में अनेकों प्रकार के औषधीय गुणों से युक्त पौधे हैं, यहाँ अभी तक 53 प्रकार के औषधीय पौधे हमारे पास हैं जो स्थानीय स्तर पर विभिन्न प्रकार के रोगों के ईलाज में उपयोग किये जा सकते हैं, यह वन लोगों को आर्थिक लाभ देने भी उपयोगी होगा।”

उद्घाटन समारोह में योग गुरु रामदेव तथा पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण भी उपस्थित थे। बाबा रामदेव ने हरियाणा सराकार के इस योगदान की प्रशंसा की तथा कहा कि अन्य मंत्रालयों के साथ सहयोग करते हुए पतंजलि शीघ्र ही एक हर्बल कॉर्पोरेशन का निर्माण करेगा जो इस नये औषधीय वन के कार्यों को देखेगा।

इस प्रोजेक्ट से हरियाणा के वैश्विक पर्यटन क्षेत्र पर आने का अनुमान है, तथा रोजगार निर्माण में भी सहायक होने के साथ ही यह पर्यावरण के क्षेत्र में एक प्रेरणादायी मॉडल बनेगा।


प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *